BREAKING: होटल पर बुलडोजर चलते ही राजीव राणा का सरेंडर, पुलिस ने किया गिरफ्तार।

 




                                वीडियो देखें

     JUNE 27, 2024 THURSDAY           
     National Hussaini 72 News       

बरेली: पीलीभीत बाईपास पर बजरंग ढाबे के पास बीती 22 जून की सुबह गोलीकांड को अंजाम देकर कानून को चुनौती देने वाले सभी आरोपियों पर पुलिस-प्रशासन की निगाहें टेढ़ी हो गईं हैं। जिनमें से मुख्य आरोपी राजीव राणा पर गुरुवार सुबह को बीडीए ने भारी पुलिस की मौजूदगी में तगड़ी कार्रवाई की और उसके होटल पर बुलडोजर चलाना शुरू कर दिया। 

जिसके कुछ ही घंटों में गोलीकांड के बाद से फरार बिल्डर राजीव राणा अपने परिवार समेत मौके पर पहुंच गया और सरेंडर कर दिया। इसके बाद पुलिस उसे पकड़कर अपने साथ ले गई। इस दौरान उसकी बेटी और पत्नी ने बुलडोजर कार्रवाई के विरोध में हंगामा भी किया।
बता दें पीलीभीत बाईपास पर एक प्लॉट पर कब्जे के लिए 22 जून की सुबह करीब छह बजे भारी संख्या में बदमाशों ने फायरिंग करते हुए मार्बल की दुकान पर बुलडोजर चलाना शुरू कर दिया था। करीब दो घंटे तक जबरदस्त फायरिंग के दौरान सौ से ज्यादा गोलियां दागी गई थीं। 
इस मामले में एक पक्ष से राजीव राणा, पूर्व विधायक पप्पू भरतौल और दूसरे पक्ष से आदित्य उपाध्याय समेत 50-60 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। दूसरे पक्ष के आदित्य उपाध्याय और उसके पिता को तो शनिवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया, लेकिन हमला करने का मुख्य आरोपी राजीव राणा और उसका प्रमुख सहयोगी हिस्ट्रीशीटर केपी यादव अब तक फरार चल रहा था।

    रिपोर्ट तकी़ रज़ा बरेली।        

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने